इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

रविवार, 12 अक्तूबर 2008

घर मेरे भी, बिटिया किलकने लगी है.

अब नर्म धूप,
मेरे आँगन भी,
उतरने लगी है।
टिमटिमाते तारों की रौशनी,
और चाँद की ठंडक,
छत पर,
छिटकने लगी है।
पुरबिया पवनें,
खींच लाई हैं,
जो बदली , वो,
घुमड़ने लगी है।
दर्पर्ण मंज रहा है,
ख़ुद को,
आलमारी भी,
सँवरने लगी है ।
फूलों के खिलने में,
समय है,
कल्यिओं पर ही,
तितलियाँ,
थिरकने लगी हैं।
शायद ख़बर,
हो गयी सबको,
घर मेरे भी, बिटिया,
किलकने लगी है.......

हाँ, जी , हाल ही में मुझे पुत्री प्राप्ति का वरदान मिला है। आप सब भी , आशीष दें और हो सके तो एक प्यारा सा नाम भी.

8 टिप्‍पणियां:

  1. बिटिया का जन्म दिन मुबारक हो।ढेरों आशिर्वाद।


    शायद ख़बर,
    हो गयी सबको,
    घर मेरे भी, बिटिया,
    किलकने लगी है.......

    उत्तर देंहटाएं
  2. aap ko aur aap ki patni ko bahut bahut badhaii
    blog kae rishtey mae to ham uskii bua hotey haen !!!!!!!!
    naam tab baateygae jab patni kaa naam bhi pataa ho

    with lots of love to your daughter , mae god give her all the happiness in life and may she grow up to become a very good human being
    regds
    Rachna

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपको व आपकी पत्नी को बहुत बहुत बधाई।
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  4. bahut bahut badhai....bitiya jab aapki ankhon me dekh kar muskayegi na, aapko vishwas nahi hoga ki aap isi jagat me hai.....bahut saare pyaare anubhavon ke liye shubhkamnayen...

    उत्तर देंहटाएं
  5. aap sabka bahut bahut dhanyavaad. rachna jee, meri ardhaangini kaa naam rajni hai, to bua jee jaldee se aap uske liye koi naam batayein. swati jee, us nanhi pari ko god mein uthanne ka sukh hee alaukik mehsoos hota hai.

    उत्तर देंहटाएं
  6. शायद नहीं ...सबको खबर हो गयी ...घर आपके
    बिटिया किलकने लगी है.....आपलोगों को बधाई....बिटिया को आशीष।

    उत्तर देंहटाएं
  7. are bhai ji hamari(matlab tumhari) bitiya ko hamara dher sara pyar... aap dono ko tahedil se badhayi... aap sab fale..fulen...aur aap sabko ham sabkaa pyaar....

    उत्तर देंहटाएं

पढ़ लिए न..अब टीपीए....मुदा एगो बात का ध्यान रखियेगा..किसी के प्रति गुस्सा मत निकालिएगा..अरे हमरे लिए नहीं..हमपे हैं .....तो निकालिए न...और दूसरों के लिए.....मगर जानते हैं ..जो काम मीठे बोल और भाषा करते हैं ...कोई और भाषा नहीं कर पाती..आजमा के देखिये..

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers