इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

गुरुवार, 30 अप्रैल 2009

अरे कोई लिंक बनाना सिखा दो भाई....

मैंने अक्सर लिखते समय महसूस किया है की यदि उसी विषय पर मैं पहले से कही हुई बात उन चिट्ठाकारों के ब्लॉग एड्रेस के साथ लिंक बना कर लिख सकता तो क्या खूब होता, जैसे आप लोग चिटठा चर्चा में करते हैं मगर अफ़सोस की मुझे लिंक बनाना नहीं आता, क्या आप में से कोई मेरी मदद कर सकता है , थोड़ा आसान रास्ता बताइयेगा, आपका आभार .....

13 टिप्‍पणियां:

  1. अरे मैं हूं न
    आपने पहले क्‍यों नहीं पूछा
    ऑनलाईन चैट पर आएं
    और जान जाएं
    बहुत सरल है
    मुश्किल भी है
    जब तक मालूम नहीं है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. भाई मै आपसे दूर हूँ पास में होता तो मै आपको लिंक बनाना जल्दी सिखा देता . भाई अविनाश जी देहली में है वे आपकी मदद जरुर करेंगे.

    उत्तर देंहटाएं
  3. उपर जो जंजीर की कड़ी दिख रही है
    जिस शब्‍द का लिंक बनाना है
    उसे सलैक्‍ट करें
    फिर उपर कड़ी यानी जंजीर पर क्लिक करें
    वो यूआरएल पता मांगेगा
    जिस पोस्‍ट का लिंक बनाना है
    या ब्‍लॉग का लिंक बनाना है
    उसके यूआरएल को कापी करके लाएं
    और यहां पर पेस्‍ट करें और ओके कर दें
    बन गया लिंक।

    ना समझ आया हो तो
    अपना फोन नंबर दें
    और इंतजार करें कल का
    लिंक बनाना और
    स्‍नैपशाट बनाना
    दोनों सिखला दूंगा।

    उत्तर देंहटाएं
  4. are avinaash bhai, ye to mujhe khyaal hee nahin aayaa, orkut par bhee apnaa phone number de raha hoon, aur yahan bhee, maargdarshan karein..9871205767

    उत्तर देंहटाएं
  5. यदि उसमें दिक्‍कत आ रही हो तो ये रहा लिंक बनाने का कोड ....
    लिंक के लिए लिखा गया शब्‍दआराम से बन जाएगा।

    उत्तर देंहटाएं
  6. कोड नहीं जा सका .. लिंक बनकर ही चला गया .. आपके ईमेल पर भेज देती हूं।

    उत्तर देंहटाएं
  7. मेरी सलाह मानिए हिन्‍दी ब्‍लॉग टिप्‍स के आशीष से संपर्क करें। पूरी प्रक्रिया को तफसील और ढंग से समझाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  8. जब कोई न सफल हो तो हमें ईमेल करना. :) बैठे हैं इस पार-

    उत्तर देंहटाएं
  9. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  10. ।मैने समझा था आप मजाक कर रहे हैं, पर आप तो गम्भीर थे।

    उत्तर देंहटाएं
  11. aap sabkaa bahut bahut dhanyavaad maargdarshan karne ke liye, aaj pehlee baar kisi blogger se seedhe rubaroo hue, aur avinash bhai ne phone karke sab kuchh vistaar se samjhaa diya. aap sabke pyar ko dekh abhibhoot ho gaya, kya kahun...

    उत्तर देंहटाएं
  12. avinash sir k bahane aapka phone number mil gaya mai b kahne wala tha ye.... orkut par kis nam se hain aap....

    उत्तर देंहटाएं

पढ़ लिए न..अब टीपीए....मुदा एगो बात का ध्यान रखियेगा..किसी के प्रति गुस्सा मत निकालिएगा..अरे हमरे लिए नहीं..हमपे हैं .....तो निकालिए न...और दूसरों के लिए.....मगर जानते हैं ..जो काम मीठे बोल और भाषा करते हैं ...कोई और भाषा नहीं कर पाती..आजमा के देखिये..

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers