इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

गुरुवार, 8 सितंबर 2011

99 पे काहे अटका दिए हो .....फ़ालो काहे नय करते हो ...वन लाइनर









चर्चा बाबू , पोज में 






आपको पता है हिंदी ब्लॉगिंग में आपकी स्थिति क्या है :- अभी तो ई पता लगाने में बिजी हैं कि हिंदी ब्लॉगिंग की स्थिति क्या है 




न अब मुस्कुराते नहीं बनता : हां , यही कह रही है जनता 




वे दो : पढ लो 




अजीब या रोचक : हम रह गए भौंचक्क 







एक खबर एक दुविधा : के हिसाब से पर खबर एक दुविधा का एवरेज बन गया 



 उत्तर प्रदेश पुलिस में राजनीति : अच्छा , क्या बहिन जी जीप के बदले हाथी दे रही हैं पुलिस को 



 बारिश से ठीक पहले : लिखी पोस्ट को बारिश खत्म होने से पहले ही पढ जाना चाहिए 



 अन्ना हज़ारे और पीसी बाबू : बीमारे बेचारे दिग्गी बाबू 


 मैं जब भी अकेली होती हूं : एक धांसू पोस्ट का आइडिया आ ही जाता है 


 जीत को तरस रही टीम इंडिया : फ़ौरन ही बांग्लादेश के साथ मैच खेलना चाहिए 


 आखिर हम बांग्लादेश से हार गए : ल्यो इहां तो उलटा ही हो गया ..ई तो पहिले ही हार गए जी 


 अंक 100 के बारे में : बहुत मेथामेटिकल पोस्ट है भाई 


 अब हम वनडे सीरीज़ में तीर मारेंगे : अरिस्स साला , किरकेट से डायरेक्ट तीरअंदाज़ी ..केतना टेलेंटेड टीम है भाई 



 कबाडखाने की दो हज़ारवीं पोस्ट : ये कबाडखाना फ़लता फ़ूलता रहे दोस्त 


ये जो सामान रखा है  : बडा कमाल है , खुदे देखिए 




 ये तो मैं भी कर सकता हूं : मैं नहीं कर सकता , मैं तो गरिया सकता हूं खाली 



पीले जूते वाली लडकी : जहां भी मिले , उसके जूते फ़ौरन ब्लैक पॉलिश करवाए जाएं 


 कविता और बाज़ार : दुन्नो एक्के साथ 



 वो कुंभकरन की पोती है : और मेघनाद का नाती भी दिखा क्या कहीं 



 धत प्यार क्या होता है जी ? ये हम नहीं जानते : हट , ये कितना भी कह लें आप , हम नहीं मानते 
 


छोटी बात , बडी बात : दोनों को मिलाकर , एक अच्छी पोस्ट तैयार हो सकती है 




हमको यकीन है कि ई पोस्ट के बाद ....झा जी कहिन ..का अनुसरक सूची ..शतक मार लेगा ....जय हो आज के वन लाइनर देखिए हम फ़िर कल मिलते हैं  

10 टिप्‍पणियां:

  1. रोचक ।
    शतक भी लग गया ।
    अरे सचिन का नहीं , आपका ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी पसंद अच्छी लगी। कई ब्लॉग पर आज पहली बार गया।

    उत्तर देंहटाएं
  3. अभी नॉट आउट है आप , शतक मुबारक हो

    उत्तर देंहटाएं
  4. अब तो शतक लगाने के साथ ही एक ऊपर से सगुन भी मिल गया है .....रोचक अंदाज

    उत्तर देंहटाएं
  5. भईया जी अब तो इश्माईल कीजिये ... वैसे हम भी अटके हुए है ९७ पर ... गाडी आगे बढती ही नहीं ... हम भी ऐसा ही कुछ करें का ???

    हमारी पोस्ट इस चर्चा में शामिल करने के लिए आपका बहुत बहुत आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  6. बड़े सुन्दर सूत्र। धन्यवाद|

    उत्तर देंहटाएं

पढ़ लिए न..अब टीपीए....मुदा एगो बात का ध्यान रखियेगा..किसी के प्रति गुस्सा मत निकालिएगा..अरे हमरे लिए नहीं..हमपे हैं .....तो निकालिए न...और दूसरों के लिए.....मगर जानते हैं ..जो काम मीठे बोल और भाषा करते हैं ...कोई और भाषा नहीं कर पाती..आजमा के देखिये..

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers