इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शनिवार, 19 मई 2012

समाचार नहीं - सम अचार हैं ये ..अहा खट्टा मीठा






संसद में पेश होगा मनरेगा का लेखा-झोखा ,
अबे छोडो , डायरेक्ट बताओ , जनता को दिया है कितना धोखा
(बस रकमवा बता के छोड दीजिए जी , बकिया चलित्तर तो आपका जानबे करती है जनता)


राज्यसभा में 21 को पेश हो सकता है विधेयक लोकपाल ,
अरे छोडिए ई बेकार है मुद्दा , आप तो करिए कार्टूनवा आ आईपीएल पे बवाल ,
(ई कईसन हुआ रे हाल , हाकिम खुदे हैं चंडाल)


मंजूर हुई जमानत , तिहाड जेल से रिहा हो गए राज़ा ,
खूब कटा है केक , फ़ूटे पटाखे घर पे , और बजा बैंड बाजा
(हां हां आखिरकार शूरवीर ..कारगिल फ़तह करके न आए हैं , सरबे शर्म होती त डूब मरते)


माया के भ्रष्टाचार जांच को , अखिलेश जल्दी ही गठित करेंगे इक आयोग ,
अबे भक्क , ई साला जांच और आयोग का , पूरे देश को लगा हुआ है रोग ,
(एक बात बताओ बे , अबे लूट का पैसा तो असूले नय पाते हो किसी से ...कद्दू का जांच आ सुथनी का आयोग)


पिछला कै दिन तक जोर जोर से सब ढोल था पीटा ,संसद का उमर हो गया साठ ,
आ एतना दिन से रोज़ है बैठता , गिन के साला ,काम नहीं किया कुल आठ
(आ ई लोग को दरमाहा फ़ुल्ल चाहिए ...फ़ुल्लम फ़ुल्ल)


सौर उर्जा से संचालित होंगे , शहर के सारे बिजली घर ,
इसी भरपूर रोशनी में , मैच होगा , चीयर गर्ल्स मटकाएंगी कमर ,
(अबे ससुरों , जिन गावों में बसा अंधेरा , रुख करो न कभी उधर ...हट्ट बे बकवासे समाचार है ई सब)


अवैध वसूली को लेकर , इलाहाबाद में, जमकर हुआ बवाल ,
आयं , अभी तो इत्ता कांफ़िडेंटली बाबू अखिलेश आदेश दिए कमाल
(ई साला पोलटिकल आदेश के उलटा ही हो जाता है , आउर दीजीए पंद्रह दिन का टैम हो अखिलेस बाबू)


एमबीबीएस डॉक्टरों को देनी होगी गांवों में एक वर्ष की सेवा ,
एक साल में मरीज़ खतम सब , फ़िर शहरन में खूब उडावें मेवा ,
(केतना फ़रक किए शहर गांव में , सरकार , हे देवा रे देवा)


बोले राम गोपाल वर्मा , जो मुझे पसंद है वही पिक्चर बनाता हूं ,
पब्लिक का घंटा समझेगी , कई बार तो खुद भी समझ नहीं मैं पाता हूं
(डरना जरूरी है कि डरना मना है ..आज तकले साला संस्पेसवे बना है)


आईपीएल के खिलाग कीर्ति आजाद करेंगे आमरण अनशन ,
का बात करते हैं सर जी , आप भी लगावें सट्टा और जीतें भरपूर धन
(चलता रहेगा ई खेलवा टनाटन , कोई लगावे मन , आ कोई दिखावे तन)


15 दिन में सुधारो कानून व्यवस्था ,अईसन अफ़सरों को मिला है आदेश ,
एक पखवाडे में ठीक हो जाए सब , चाहते हैं नयका सीएम अखिलेश
(जे बात ...ऊपी में है दम , लेकिन टाईम दिए हैं कम ..का सर सोलवहां दिन से मरजेंसी लागू करने बाले हैं क्या हो)


उडी बाबा , बोली हैं ममता दीदी , शाहरूख पर लगे बैन पर फ़िर से हो विचार
फ़िर से माने , हां हां एकदम्मे जी , इनको परमानेंट ही बाहर करो न यार ,
(ई पी पा के फ़िर से करें डिरामा , फ़िलाप पिक्चर दे कर हिट करे हंगामा)


ब्लॉगजगत में गर्मागर्मी ,आजकल ,मची है पुरस्कारों की मारामारी जी ,
हर कोई कहता यही है सबसे ,अईसे नहीं चलेगा , पहिले सुनो राय हमारी जी
(तभी तो मैं कहता हू ," ब्लॉगिंग में उठा बवाल , ब्लॉगिंग को मिला उछाल ".....)


राहुल बाबा बोलिस हैं :कांग्रेस को हरा रहे हैं खुद पार्टी के नेता ,
तो का करें बेचारे , अब हर कोइयो थोडे न बन जाएगा गांधी फ़ैमिली का बेटा
(ए बेट्टा राहुल ....तनिक सरनेमवा हटाओ , आ तब ई जरा बोल के दिखाओ ..रगड देगा तुमहीको तुम्हरा पज़ा पालटी रे )..


फ़िज़ूलखर्ची पर सरकार हुई सख्त , उठाने जा रही है सख्त कदम ,
अच्छा , कौन सी सरकार बे , जिसके मंतरी कर रहे घोटाले धमाधम
(साले चुटकुल्ला सुना रहे हो भोरे भोरे)


105 अरब डॉलर की हुई कंपनी , आईपीओ से फ़ेसबुक हो गया मालामाल ,
आयं , चलो रे पेंसन चालू करो अब , नय तो हमारा भी हिस्सा दो निकाल
(रे जुकरबर्गवा ..ई साला पूरा दिन खटते रहें हम लोग , आ शेयर माल पीटो तुम ...बहुत नाइंसाफ़ी है गब्बर)


झारखंड में 14 विधायकों व मंत्रियों के ठिकानों पर पडा है सीबीआई का छापा ,
ल्यो अबे थक गए सुन सुन कर , ई बताओ आज तक तुमने कितनों को नापा
(न पैसा पाते हो वसूल , न कानून का शूल , सब जाते धीरे धीरे भूल ...बंद करो बे ई डिरामा छापा छापा का)


महिला से दुर्व्यवहार के आरोप में रॉयल टीम का एक खिलाडी हुआ गिरफ़्तार ,
काहे का रॉयल बे टुच्चों , साले जेंटलमेन खेल का बेडा गर्क कर दिए यार
(तनिक और करो बंटाधार ...ताकि ससुरा परमांनेन्टली बंद हुई जावे)


6 टिप्‍पणियां:

  1. सम अचार में भी तीखा तड़का!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. चटपटा मसालेदार ... बोले तो एकदम भेरंट ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. रोचक समाचार-- समाचारों का रोचक प्रस्तुतीकरण ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. क्या बात है!!
    आपकी यह ख़ूबसूरत प्रविष्टि कल दिनांक 21-05-2012 को सोमवारीय चर्चामंच-886 पर लिंक की जा रही है। सादर सूचनार्थ

    उत्तर देंहटाएं

पढ़ लिए न..अब टीपीए....मुदा एगो बात का ध्यान रखियेगा..किसी के प्रति गुस्सा मत निकालिएगा..अरे हमरे लिए नहीं..हमपे हैं .....तो निकालिए न...और दूसरों के लिए.....मगर जानते हैं ..जो काम मीठे बोल और भाषा करते हैं ...कोई और भाषा नहीं कर पाती..आजमा के देखिये..

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Google+ Followers